भाभी की बहन बोली फोन करूंगी

Hindi sex chat, desi kahani: भाभी की डॉक्टर बहन को अपने जाल में फंसा ही लिया। दोस्तों मैं अपने बारे में भी आपको थोड़ा सा परिचय देता हूं मेरा नाम सुरजीत है और मैं अंबाला का रहने वाला हूं मेरी भाभी की छोटी बहन जो कि डॉक्टर है उससे कुछ दिनों पहले ही मेरा टांका भीड गया था। पहले तो वह मुझसे बात नहीं किया करती थी लेकिन कुछ समय से वह मुझे बहुत ही फोन कर रही थी। हम दोनों के बीच काफी बातें भी हो रही हैं हम दोनों को एक दूसरे से बातें करना अच्छा लगता है और मुझे भी बहुत अच्छा लगता है जिस प्रकार से मुझसे काजल बातें किया करती वह मुझे अच्छा लगता। काजल के अंदर कुछ तो बात है जो मैं उसकी तरफ खिंचा चला जाता हूं लेकिन जब पहली बार मेरी उससे बात हुई तो मुझे कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि उससे मैं क्या बात करूं। धीरे धीरे हम दोनों की बातें होती चली गई और हम दोनों के अंदर से डर भी खत्म हो चुका था अब हम दोनों एक दूसरे से खुलकर बातें किया करते। जिस प्रकार से मैंने काजल की इच्छा को फोन पर पूरा किया वह मेरी दीवानी हो गई यह हम दोनों के बीच पहले ही बार हुआ। जब हम दोनों एक दूसरे से बातें कर रहे थे वह तो मेरी बातों से बड़ी इंप्रेस हो चुकी थी।

मैं- काजल तुम आज बड़ी अच्छी लग रही थी।

काजल- मैं तो दिखने में अच्छी हूं कौन सा मेरे अंदर कोई कमी है। तुमने यह कैसे कहा कि मैं आज अच्छी लग रही थी क्या इससे पहले मैं अच्छी नहीं लगती थी।

मै- अरे बाबा मेरा यह कहने का मतलब नहीं था मैं तो सिर्फ यह कह रहा था कि तुम आज बहुत ही ज्यादा सुंदर लग रही थी।

काजल- आज मै अपनी दोस्तों की पार्टी थी मेरी दोस्त का बर्थडे था तो हम लोग वही गए हुए थे।

मैं- काजल तुम घर कब आओगे मैं तुम्हारा इंतजार कर रहा हूं और जब से तुमने मुझे हां कहा है तब से तो मैं तुम्हारे लिए तड़प रहा हूं।

काजल- देखो सुरजीत मैंने तुम्हें हां जरूर कह दिया है लेकिन यह मत समझना कि मेरी तुमसे शादी हो पाएगी क्योंकि तुम्हें तो मालूम ही है मैं बिल्कुल ही खुले विचारों की हूं और मैं शादी के बंधन में फिलहाल इतनी जल्दी तो बधने वाली नहीं हू। जब मुझे लगेगा कि मुझे तुमसे आगे रिश्ते बनाने चाहिए तो ही मैं तुमसे आगे रिश्ते बनाऊंगी।

मैं- हां ठीक है काजल मुझे तुम्हारे बारे में मालूम है तुम तो मुझे ऐसे समझा रही हो जैसे कि मुझे पहले तुमने कभी इस बारे मे बात ना कि हो। जब भी हम लोग आपस में बात करते हैं तो तुम हमेशा ही मुझे इस बारे मे कहती हो।

काजल- देखो तुम्हें हर एक चीज बताना पहले ही ठीक है यदि बाद में तुम मुझसे कोई जोर जबरदस्ती करो तो मुझे भी अच्छा नहीं लगेगा क्योंकि मैंने आज तक कभी भी किसी को झूठ नही कहां है। मेरा बचपन से जो मन था मैं वही करती थी।

मैं- हां मुझे मालूम है भाभी ने मुझे तुम्हारे बारे में सब कुछ बता दिया है  तुम कैसे अपनी मन मर्जी की मालिक हो।

काजल- तुमने फिलहाल आगे क्या सोचा है?

मैं- फिलहाल तो मैंने आगे कुछ नहीं सोचा है लेकिन अभी तो तुम से बात करने का मन है और तुम से ही बात कर रहा हूं।

काजल- अच्छा तो तुम्हारा मुझसे बात करने का मन है।

मैं- हां काजल तभी तो तुमसे बात कर रहा हूं।

काजल- अच्छा तो तुम मुझसे बात क्या करोगे?

मैं- मैं तुम्हें प्यार करूंगा और क्या करूंगा।

काजल- प्यार कैसे करते हैं।

मै- अच्छा तो तुम भी मुझसे मजे ले रही हो।

काजल- भला मैं तुमसे क्या मजे लूंगी मैं तो तुमसे सिर्फ सवाल कर रही हूं अब तुम्हें उसका जवाब नहीं देना तो अलग बात है।

मैं- काजल तुम भी कितनी अटपटे सवाल करती हो। तुम कितनी ज्यादा हॉट और सेक्सी हो मैं तो तुम्हारे बिना बिल्कुल भी रह नहीं पाता हूं।

काजल- अच्छा तो तुम यह बताओ मैं तुम्हें कितनी अच्छी लगती हूं।

मैं- तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो और जब भी तुम्हारे हॉट और सेक्सी बदन को मै देखता हूं तो मैं बिल्कुल भी रह नहीं पाता और ऐसा लगता है कि जैसे तुम्हें अभी अपनी बाहों में समा लूं।

काजल- अच्छा तो यदि मैं तुम्हारे पास अभी आ जाऊं तो क्या तुम मुझे अपनी बाहों में समा लोगे।

मैं- हां क्यों नहीं समा लूंगा तुम ही बताओ तुम्हारे जैसे हॉट और सेक्सी लड़की को भला कौन अपना नहीं बनना चाहेगा।

काजल- सुरजीत मैं तुम्हें एक बात बताना चाहती हूं।

मैं- हां बताओ ना क्या बताना है।

काजल- मैं तुम्हें यह बताना चाहती हूं कि इससे पहले भी मेरे तीन बॉयफ्रेंड रह चुके हैं और उनके साथ भी मैं शारीरिक संबंध बना चुकी हूं क्या तुम्हें इससे कोई दिक्कत तो नहीं है।

मैं- नहीं मुझे इससे कोई आपत्ति नहीं है मैंने भी इससे पहले 5 भाभियों के साथ सेक्स किया है और उन पांचों को मैंने गर्भवती कर दिया था।

काजल- तुम तो बडे हरामी निकले मुझे तो लगा था कि मैंने ही गलत किया होगा लेकिन तुमने तो मुझसे भी ज्यादा गलत किया है।

मैं- इसमें मैंने क्या गलत किया भाभीया मेरे पास आ जाती थी और कहती थी कि तुम हमारे साथ कुछ करो तो भला मैं कैसे छोड़ देता।

काजल- अच्छा तो तुमने किसी को भी नहीं छोड़ा?

मैं- नहीं मैंने क्यो किसी को छोड़ना था मैंने उनको उठा उठा कर चोदा। अभी तक उनमें से कुछ मेरे पास आती है और कहती है कि आप काफी दिन से हमारे घर पर नहीं आए।

काजल- तुम अब उनके साथ क्या करते हो?

मैं- उनकी चूत मारता हूं लेकिन अब उनके साथ सेक्स करने में मजा नहीं आता।

काजल- क्यों अब उनके साथ क्यों मजा नहीं आता?

मैं- मुझे तो तुम्हारे साथ किस करना है और तुम्हें अपना बनाना है।

काजल- अच्छा तो तुम मुझे अपना बनाना चाहते हो।

मैं- हां मैं तुम्हें अपना बनाना चाहता हूं और तुम्हारी चूत में अपने लंड को मैं घुसाना चाहता हूं। क्या तुम मुझे अपनी चूत मारने दोगी।

काजल- क्यों नहीं मारने दूंगी तुम्हें जब मन हो तो तुम मेरी चूत मार लेना और मुझे अपना बना लेना। मैं भी तुम्हारे लिए फिलहाल तो तड़प रही हूं। तुम्हें मालूम है मैंने कुछ दिनों पहले डिलडो अपनी सहेली से मंगवाया था वह बढे काम का निकला।

मैं- अच्छा तो तुमने डिलडो मंगवा लिया है तुम उसे अपनी योनि में ले लो तुम्हें अच्छा लगेगा।

काजल- मैने अपनी चूत मे वह डिलडो ले लिया है। मझे ऐसा लग रहा है तुम अपने लंड को मेरी योनि के अंदर बाहर करते रहो ताकि मेरे अंदर गर्मी बढती जाए।

मैं- मुझे भी तुम्हें चोदना में बड़ा मजा आ रहा है और मैं तुम्हें बडे अच्छे तरीके से महसूस कर पा रहा हूं।

काजल- अच्छा तो तुम मुझे महसूस कर रहे हो मुझे तो बहुत खुशी हो रही है कि तुम मुझे महसूस कर पा रही हो।

मैं- तुम्हारे जैसी टाइट और कमसिन बला को कौन महसूस नहीं करना चाहेगा। तुम्हें मै अपना बनाना ही चाहता हूं और तुम्हें भी मैं प्रेग्नेंट करना चाहता हूं।

काजल- इस बार जब मैं आऊंगा तो मुझे प्रेग्नेंट कर देना मुझे तुमसे बात कर के बड़ा अच्छा लगता है और मेरे अंदर की उत्सुकता और भी ज्यादा बढ़ती जा रही है।

मैं- तुम्हारे अंदर की उत्सुकता कितने बढ़ रही है।

काजल- पूछो मत कितनी ज्यादा बढ़ रही है फिलहाल तो मेरे अंदर अब उत्तेजना बढ़ चुकी है और मेरी चूत से पानी बाहर की तरफ को निकलने लगा है।

मैं- तुम्हारी चूत से कितनी तेजी से पानी बाहर निकल रहा है।

काजल- मेरे चूत से बहुत तेज पानी  निकल रहा है और ऐसा लग रहा है कि जैसे बस कुछ देर बाद ही मेरी प्यास बुझेगी तुम मेरे प्यास को बुझा दोगे।

मैं- मैं तो तुम्हारी प्यार को बुझा ही रहा हूं और मेरा वीर्य भी मेरे अंडकोष से बाहर की तरफ को निकलने लगा है।

काजल- मेरा हो गया अब तुम अपने माल को गिरा दो।

मैं- लो मेरा भी गिर गया मुझे बड़ा अच्छा लग रहा है और अब तुम से बात कर के ऐसा लग रहा है जैसे कि तुमने चार चांद लगा दिया हो।

काजल- सुनो सुरजीत मुझे तुम से यह पूछना था क्या दीदी भी प्रेग्नेंट हो चुकी है?

मैं- नहीं भाभी प्रेग्नेंट नहीं हुई है मैं क्या मैं उन्हें प्रेग्नेंट कर दूं।

काजल- तुम भी कैसी बात करते हो तुम्हें तो जंहा भी छेद मिलता है तुम वहीं घुसा देते हो।

मैं- मैं तो तुमसे मजाक कर रहा था अभी तो मेरी नजर तुम पर है और फिलहाल तो तुम से ही काम चल जाएगा।

काजल- तुम बडे हारामी हो फोन रखो अभी मुझे भी जाना है।

मैं- चलो ठीक है जाओ फिर बाय।

Tags: , , ,
error: