ऐसा मजा आज तक नहीं आया

Online sex chat, hindi sex talk:  मैं और कोमल एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे लेकिन हमारी शादी हो नहीं पाई थी। आज मेरी शादी को करीब 7 वर्ष हो चुके हैं और कोमल की शादी को भी काफी समय हो चुका है हम दोनों की शादी ना होने का कारण यही था कि हम दोनों के परिवार वाले हमारी शादी के लिए राजी नहीं थे लेकिन उसके बावजूद भी कोमल ने कभी मुझसे अपना संपर्क नहीं तोड़ा और वह मुझसे हमेशा ही बात करती है आज भी हम दोनों एक दूसरे से बात करते हैं। जब भी कोमल दुखी होती है मैं उससे बात कर लेता हूं और उसे बहुत अच्छा लगता है हम दोनों ने अपने रिश्ते को आज भी वैसा ही रखा है जैसे कि पहले था इतने साल हो जाने के बाद भी हम दोनों के बीच कुछ भी नहीं बदला था बस हम दोनों के बीच मिलो की दूरी थी वह मुझसे मिलो दूर रहती है लेकिन उसके बावजूद भी हम दोनों फोन पर बात कर के उस दूरी को भी खत्म कर लेते हैं मुझे बहुत अच्छा लगता है जब मैं कोमल से बात करता हूं।

अभी कुछ दिनों पहले की ही बात थी जब हम दोनो एक दूसरे से बात कर रहे थे कोमल का उसके पति के साथ झगड़ा हुआ था और कोमल बहुत ही ज्यादा टेंशन में थी। मैंने उससे फोन पर बात की और उसकी सारी टेंशन को मैंने दूर कर दिया था हम दोनों वीडियो कॉल के माध्यम से ही सेक्स का मजा ले लिया करते थे जब भी मेरा मन होता है तो मैं उससे बात कर लेता हूं और अपने माल को बाहर गिरा दिया करता हूं। मेरी पत्नी भी कुछ दिनों से अपने मायके गई हुई थी मैं घर पर अकेला था और इस बीच उसके पति भी घर पर नहीं थे हम दोनों एक दूसरे से बात करना चाहते थे। मैं उस दिन अपने ऑफिस से घर लौटा और कपड़े चेंज कर के मैं अपने रूम में बैठा हुआ था। उस वक्त शाम के करीब 7:00 बज रहे थे कोमल का मुझे फोन आया उसने मुझसे कहा मुझे तुमसे बात करनी है मैंने कोमल से कोमल हम लोग रात के वक्त बात करते हैं रात के करीब 11:00 बजे हम लोगों ने बात की जब हम दोनों बात कर रहे थे तो बातें काफी गरमा गरम होने लगी थी और मुझे बहुत मजा आने लगा था। जब मैं कोमल से बात कर रहा था तो कोमल बड़ी खुश नजर आ रही थी।

मैं- कोमल मेरी पत्नी काफी दिनों से मायके गई हुई है और तुम्हारे पति घर पर नहीं है चलो आज हम लोग फोन सेक्स का मजा लेते हैं क्या तुम्हें इसके लिए तैयार हो?

कोमल- मैं तो हमेशा से ही तुम्हारे लिए तैयार रहती हूं जब भी तुम कहते हो तो मैं हमेशा अपनी चूत के अंदर डिलडो को लेने के लिए तैयार रहती हूं बताओ अभी क्या करना है?

मैं- कोमल अभी हम लोगों को सेक्स करना है मैं अपने लंड को बाहर निकाल रहा हूं क्या आज तुमने गुलाबी रंग की पेंटी ब्रा पहनी हुई है जो मैंने तुम्हे कुछ दिनों पहले भिजवाई थी वह तुम्हे मिल तो गई थी ना।

कोमल- मैं तुम्हें अभी अपनी तस्वीर भेज देती हूं मैं बताती हूं मैं उसमें कैसी लग रही हूं तुम भी देख कर मुझे बताना क्या मैं आज भी उतनी ही सेक्सी दिखती हूं जितनी की पहली थी और तुम्हें वह दिन याद है जब तुमने मेरी सील मेरे घर पर आकर तोड़ी थी मुझे उस दिन बहुत ज्यादा दर्द हुआ था जब तुम मुझे चोद कर गए थे मुझे 2 दिनों तक दर्द रहा था लेकिन तुमने उसके बाद जब मुझे दोबारा से चोदा तो सब कुछ ठीक हो गया था। उसके बाद तो जैसे मुझे तुम्हारे लंड को अपनी चूत में लेने की आदत हो गई थी लेकिन पापा और मम्मी ने हम दोनों को अलग कर दिया हम लोगों की शादी नहीं हो पाई और मैं आज भी तुम्हारे लिए इतनी तड़पती हूं जितना कि पहले मैं तुम्हारे लिए तड़पा करती थी।

मैं- कोमल मैं भी तुम्हारे लिए इतना तड़पता हूं जितना कि पहले तड़पा करता था लेकिन समय के साथ परिवार की कुछ जिम्मेदारियां भी आ गई है पर जब भी मैं तुम्हारे बारे में सोचता हूं तो मुझे अपनी जवानी के दिन याद आ जाते हैं जब हम लोग एक दूसरे के साथ सेक्स का मजा करते थे और हम लोग एक दूसरे के साथ जब चुदाई के मजे लिया करते थे। मेरा मन जब भी तुम्हें चोदने का होता था तो तुम मेरे पास आ जाया करती थी और हम लोग कितने मजे लिया करते थे उतना मजा मे अपनी पत्नी के साथ नहीं ले पाता हूं जो मैं तुम्हारे साथ लिया करता था। तुम्हारे अंदर वाकई में एक अलग ही बात थी तुम आज भी उतनी ही कमाल की और टाइट माल हो जितने की शादी से पहले हुआ करती थी।

कोमल- चलो सुरेश अब हम लोग समय को बर्बाद नहीं करते हैं और मैं अपनी चूत को खोल रही हूं ताकि मेरी चूत के अंदर तुम्हारा लंड जा सके और मुझे मजा आ सके। अब मैंने अपनी चूत के अंदर डिलडो घुसाना शुरू कर दिया है वाकई में मुझे बड़ा अच्छा लग रहा है मुझे अच्छा महसूस हो रहा है जैसे कि मैं अपनी चूत के अंदर बस तुम्हारे लड को लेती रहूं मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा है अब मैंने अपने पैरों को भी खोल लिया है।

मैं- तुम वाकई में कमाल की हो मेरा लंड भी मै हिला रहा हूं मुझे बहुत मजा आ रहा है मेरे लंड को मैं तुम्हारे नाम से हिला रहा हूं मुझे ऐसा लग रहा है जैसे कि मैं बस अपने मोटे लंड को हिलाता ही जाऊं और अपने अंदर की गर्मी को मैं जल्दी से शांत कर दू मुझे अपने लंड को हिलाने में बहुत मजा आ रहा है। तुम्हारा चेहरा जब मेरे सामने आता है तो मेरा वीर्य अपने आप ही बाहर निकल आता है मुझे तो ऐसा लग रहा है कहीं मेरा वीर्य बाहर की तरफ ही ना गिर जाए कोमल मैं तुम्हें आज भी बहुत ज्यादा मिस करता हूं और तुम्हारी याद में मैं बहुत तरसता हूं।

कोमल- मुझे लगने लगा है कि मेरी चूत के अंदर से कुछ ज्यादा ही पानी बाहर निकलने लगा है और मेरे अंदर की गर्मी भी बढ़ने लगी है मेरे अंदर अब इतनी ज्यादा गर्मी बढ चुकी है कि मेरी चूत से पानी बाहर की तरफ को निकलने लगा है और मैं तुम्हारे लंड को अपने मुंह में लेने के लिए तड़प रही हूं। तुम्हारे लंड को जब मैंने पहली बार अपने मुंह में लिया था तो मुझे एक अलग ही प्रकार की खुशबू आ रही थी वह खुशबू आज भी मुझे महसूस होती है मेरे अंदर की आग और भी ज्यादा बढ़ जाती है। आज तुमसे बात करके ऐसा लग रहा है जैसे कि वही पुराने दिन वापस लौट आए हो जब हम लोग सेक्स के मज़े लिया करते थे।

मैं- तुमने तो आज मेरे दिल की बात ही छिन ली लेकिन अब तुम घोड़े बन जाओ मैंने भी अपने लंड पर तकिए को सटा लिया है और तकिए को सटाने के बाद मैं पूरी तरीके से मजा ले रहा हूं मुझे ऐसा महसूस हो रहा है जैसे कि तुम मेरे बगल में ही लेटी हो और तुम्हारी चूतड़ों को मैं अपने लंड से मसल रहा हूं मुझे बहुत मजा आ रहा है। अब तुम अपनी चूतडो को मुझसे मिलाती रहो और मुझे उत्तेजित करती जाओ मेरे अंदर की गर्मी को तुम ऐसे ही बढ़ाती रहो मैं तुम्हारे लिए तड़प रहा हूं जानेमन आज भी मैं तुमसे उतना ही प्यार करता हूं जितना कि पहले किया करता था।

कोमल- मैंने अपनी चूत के अंदर पूरी तरीके से डिलडो को घुसा लिया है तुम्हारे लंड को भी मै महसूस कर रही हूं मुझे ऐसा लग रहा है जैसे तुम मुझे चोदते रहो तुम बहुत ही कमाल के हो सुरेश और मुझे बहुत अच्छा लग रहा है आई लव यू जानेमन। मैं तुम्हारे लंड को आज भी मिस करती हूं और तुम्हारे लंड को लेने के लिए मैं आज भी बहुत ज्यादा बेताब हूं मेरी तड़प तुम जल्दी से बुझा दो।

मैं- लो मैंने अपने माल को तुम्हारी चूत के अंदर गिरा दिया है अब मुझे बहुत ही मजा आ गया तुम मेरे लंड को चूसती रहो और मुझे भी पूरी तरीके से मजे देती रहो ताकि मैं खुश हो जाऊं और मेरे अंदर की गर्मी बढ़ सके आई लव यू जानेमन मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं और तुम्हें मैं बहुत ज्यादा मिस भी करता हूं तुम्हारे बिना मैं कभी रह ही नहीं पाऊंगा।

अब हम दोनों ने फोन रख दिया था क्योंकि हम दोनों संतुष्ट हो चुके थे।

 

Tags: , , ,
error: