वीडियो सेक्स के दौरान वीर्य दिखाया

Hindi sex story, kamukta दोस्तों मेरा नाम पायल रस्तोगी है मैं लखनऊ की रहने वाली हूं और मेरी उम्र 22 वर्ष है, मैं एक कच्ची कली हूं मुझे आज तक किसी ने भी चोदा नहीं है।  मेरे पिताजी अब रिटायर हो चुके हैं हम लोग इससे पहले मेरठ में रहते थे। मेरठ में ही हमारे पड़ोस में एक लड़का रहता था वह हमेशा ही मुझे देखता रहता था लेकिन उसने मुझसे कभी भी बात नहीं की, कुछ समय पहले से ही उसका फोन मुझे आने लगे हैं, अब मुझे उससे फोन करने में भी अच्छा लगता है क्योंकि मुझे उससे फोन सेक्स में कोई भी आपत्ति नहीं है। मैं अपने यौवन का सुख सिर्फ अपने होने वाले पति को देना चाहती हूं। वह मुझसे हर रोज फोन पर बात करता है अभी तीन चार दिन पहले की ही बात मैं आपको बताती हूं, जब हम दोनों की बातें हो रही थी।

कुशाल- हेलो पायल कैसी हो?

मैं- अच्छी हूं कल ही तो तुमने मुझसे बात की थी और एक दिन में भला मुझे क्या हो जाएगा।

कुशाल- तुम्हारी भी हमेशा ही ऐसी आदत है तुम कभी भी सीधे मुंह बात नहीं करती, तुम अपनी सुंदरता पर बहुत ही ज्यादा घमंड करती हो।

मैं- कुशाल रहने भी दो तुम तो कुछ भी बोलते रहते हो, तुम्हारा बस चले तो तुम मुझे हर जगह झूठा ठहरा दो।

कुशाल- ऐसी कोई भी बात नहीं है, मैं तुम्हें भला झूठा क्यों ठहराऊंगा, मुझे क्या तुमसे कुछ मिलने वाला है?

मैं- अच्छा तुम्हें मुझसे कुछ भी नहीं मिलता, आज तुमने मुझसे यह बात कर के मेरा दिल तोड़ दिया है।

कुशाल- पायल बेबी ऐसी कोई भी बात नहीं है, मेरा मतलब वह नहीं था जो तुम समझ रही हो।

मैंने उसके बाद कुशाल का फोन काट कर दिया, वह मुझे तीन चार बार फोन करता रहा लेकिन मैंने उसका फोन रिसीव नहीं किया, थक हार कर उसने मुझे मैसेज किया और मुझसे सॉरी कहने लगा। उसने मुझे कहा एक बार तुम मेरा फोन उठा लो मैं तुम्हारे लिए थोड़ा ना कह रहा था। मुझे भी उस पर तरस आ गया और मैंने उसका फोन उठा लिया।

कुशाल- यार तुम तो छोटी छोटी बात पर मुझसे गुस्सा हो जाती हो, यह तो तुम्हारी अच्छी बात नहीं है।

मैं- लगता है तुम्हारा फोन दोबारा से काटना पड़ेगा, तभी तुम्हें समझ आएगा।

कुशाल- ठीक है बाबा सॉरी बोल रहा हूं और कितनी बार मेरा फोन काटोगी, मैं तुमसे बात करने के मूड में हूं और तुम मेरा फोन काटे जा रहे हो। तुमसे बात करें बिना तो मुझे नींद भी नहीं आती ,अब तुम तो जैसे मेरी आदत में शामिल हो चुकी हो गई हो।

मैं- तो कौन सा मैं तुम्हारे बिना रह सकती हूं, मैं भी तो तुम्हारे फोन का इंतजार करती रहती हूं, कि जब तुम मुझे फोन करो तो हम दोनों बातें करें।

कुशाल- अच्छा छोड़ो यार सब जाने दो तुम मुझे यह बताओ आज तुमने क्या पहना है?

मैं- तुम्हें कल ही तो मैंने बताया था कि मैंने क्या पहना है।

कुशाल- तो क्या तुम दो तीन दिनों से नहा नहीं रही हो?

मैं- ठंड कितनी ज्यादा हो रही है नहाने का किसका मन होता है, मैं तो अपने बिस्तर से भी बाहर नहीं निकलती और अभी भी मै रजाई के अंदर ही पड़ी हुई हूं।

कुशाल- क्या बात कर रही हो? तुमने आज भी वही पिंक कलर की पैंटी और ब्रा पहनी हुई है!

मैं- हां मैंने आज भी वही पहना हुआ है क्योंकि मैं बिस्तर से बाहर ही नहीं निकल रही हूं और तुम्हें तो पता ही है कि मुझे ठंड कितनी ज्यादा लगती है।

कुशाल- लगता है तुम्हारा शरीर आज गरम करना ही पड़ेगा। उसके बाद ही तुम नहाने जाओगी या फिर मुझे ही तुम्हें नहलाने के लिए आना पड़ेगा।

मैं- हां तो तुम नहलाने के लिए आ जाओ किसी ने तुम्हें रोका थोड़ी है, तुम जब मर्जी आ सकते हो।

कुशाल- तुमने जो मुझे अपनी 2 दिन पहले तस्वीर भेजी थी उसमें तो तुम बड़ी हॉट और सेक्सी लग रही थी, उस दिन तुम नहा कर अपने बाथरूम से बाहर निकली थी। मैंने तो उसे देखकर ही तीन चार बार मुट्ठ मार ली है।

मैं- क्या बात कर रहे हो क्या वाकई में तुमने तीन चार बार मुट्ठ मार ली है।

कुशाल- मैंने वाकई में तीन चार बार मुट्ठ मार ली है और मुझे अब भी तुम्हारी तस्वीर देख कर मुठ मारने का मन कर रहा है, क्या तुम वीडियो कॉल पर आ सकती हो?

मैं- हां तुम मुझे वीडियो कॉल कर लो, मै कमरे का दरवाजा बंद कर लेती हूं।

कुशाल- क्या तुमने कमरे का दरवाजा बंद कर लिया।

मैं- हां मैंने कमरे का दरवाजा बंद कर लिया है।

हम दोनों ही वीडियो कॉल पर आ गए। मैं कुशाल को साफ साफ देख पा रही थी। वह भी मुझे देख कर बड़ा खुश हो रहा था और जब हम दोनों एक दूसरे को अच्छे से देखने लगे तो उसने भी मुझे अपने मोटे और काले लंड को दिखा दिया।

मैं- कुशाल तुम्हारा लंड तो बहुत ही काला हो चुका है।

कुशाल- हां यार आजकल ध्यान नहीं रख पाता इसीलिए मेरा रंग भी काला हो गया है, तुम भी तो अपने गोरे गोरे स्तन मुझे दिखा दो।

मैं- हां मैं अपनी टी-शर्ट को हल्का सा नीचे कर रही हूं, तुम मेरे स्तनों को देख लो।

कुशाल- मुझे साफ साफ नहीं दिखाई दे रहा हैं, तुमने सिर्फ आधे स्तन मुझे दिखाए है, मुझे तुम पूरे स्तनों को दिखा दो।

मैं- उसके लिए तो मुझे पूरे कपड़े उतारने पड़ेंगे।

कुशाल- हां तो उतार दो कोई दिक्कत है क्या?

मैं- ठीक है मैं उतारती हूं।

कुशाल- ये हुई ना बात अब तुम्हारे स्तन मुझे साफ साफ दिखाई दे रहे हैं।

मैं- तुम मेरे स्तनों के दूध को पी लो और मेरी गर्मी को शांत कर दो।

कुशाल- तुम्हारे तो स्तनों में भी जादू है और तुम्हारे स्तनों का रसपान करने को मैं कब से तरस रहा हूं। जब से मैंने तुम्हें पहली बार देखा था उसके बाद से ही मैं तो तुम्हारा दीवाना हो गया था, लेकिन तुमसे मैं कभी भी बात नहीं कर पाया और हमेशा ही तुम्हारे नाम की मुठ मारता रहा।

मैं- तुम तो एक नंबर के चूतिया हो यदि तुम मुझसे पहले ही बत कर लेते तो शायद हम दोनों कब का सेक्स कर चुके होते।

कुशाल- हां यह तो तुम बिल्कुल सही कह रही हो, अब तो मुझे सिर्फ तुम्हारे नाम की मुठ मार कर ही काम चलाना पड़ रहा है।

मैं- तुम अपने लंड को हिलाते रहो, मैं  तुम्हें देख रही हूं, तुम किस प्रकार से अपने लंड को हिलाते हो लेकिन कैमरे को थोड़ा नजदीक ले आना, जिससे कि मैं भी अपनी योनि के अंदर अपनी उंगलियों को डाल दू।

कुशाल- मैंने अपना लंड हिलाना शुरू कर दिया है और तुम्हारे मुंह के अंदर अपने लंड को डाल दिया है, तुम मेरे लंड को चूस चूस कर उसका जूस निकाल दो।

मैं- हां जानू मैं भी तुम्हारे लंड को अपने मुंह में ले रही हूं और अच्छे से चूस रही हू।

कुशाल- मैंने भी अब अपने लंड को बड़ी तेजी से हिलाना शुरू कर दिया है।

मैं- मैंने अपनी दो उंगलियों को आज अपनी योनि के अंदर डाल दिया है, जिससे कि मेरी योनि से तरल पदार्थ बाहर की तरफ को निकलने लगा है और मैं पूरे मजे मे आ चुकी हूं।

कुशाल- जरा मुझे अपनी चूत के दर्शन करवा दो।

मै- हां यह लो तुम देख लो तुम्हें तो दिखाई दे रही होगी।

कुशाल- मुझे दिखाई दे रही है, तुम ऐसे ही अपनी योनि के अंदर उंगली को डालते रहो और मजे लेते रहो।

मैं- जानू तुम तो वाकई में बडे गरमा गरम हो और तुम्हारी बातें तो बड़ी मजेदार होती है। तुम्हारा लंड अपनी योनि में लेने मै तो मुझे आनंद आ रहा है और मैं जिस प्रकार से तुम्हारे मोटे लंड को देख पा रही हूं, मैं तो बहुत ही खुश हो रही हूं।

कुशाल- अभी भी ऐसे ही करती रहो बस मेरा कुछ देर बाद ही वीर्य निकलने वाला है, मैं तुम्हें अपना निकलता हुआ वीर्य भी दिखाऊंगा।

मैं- तुम मुझे आज अपना वीर्य भी निकलता हुआ दिखाना, मैं उसे निकलता हुआ देखना चाहती हूं।

कुशाल- बस 2 मिनट और रुको मेरा वीर्य बाहर की तरफ निकलने वाला है।

जब मैंने कुशाल का वीर्य निकलता हुआ वीडियो कॉल में देखा तो मैं उसके वीर्य को देखकर इतनी गर्म हो गई थी की मेरी योनि से भी मेरा तरल पदार्थ बाहर को निकलने लगा और मुझे उस दिन उसके साथ वीडियो सेक्स कर के बड़ा मजा आ गया। मैं कुशाल के साथ वीडियो कॉल में सेक्स करना पसंद करती हूं। वह भी हमेशा ही मुझे अपने मोटे और कड़क लंड को दिखा देता है, मैं भी उसे अपनी चूत के दर्शन करवा देती हूं। हम दोनों अभी तक मिले नहीं हैं बस ऐसे ही एक दूसरे को संतुष्ट कर देते हैं।

Tags: , , ,
error: