सोनिया भाभी की पाठशाला

Hindi sex stories, hot sex chat: दोस्तों पहले मैं आपको अपने बारे में परिचय देता हूं मैं कौन हूं और कहां हूं का रहने वाला हूं मैंने कैसे सोनिया भाभी को अपना बनाया था। मैं बेहद शर्मिला लड़का था मेरा नाम अजय है मैं जयपुर का रहने वाला हूं। मेरे शर्मीले स्वभाव की वजह से मैंने आज तक कभी भी किसी लड़की से बात नहीं की थी मेरी उम्र 26 वर्ष हो चुकी है लेकिन मैं कभी भी किसी से बात नहीं कर पाया सोनिया भाभी ने मेरी बहुत मदद की और उन्हीं की वजह से मैं लड़कियों से बात करने में अब शर्माता नहीं हूं और उनसे बात कर लेता हूं। सोनिया भाभी से मेरी कभी मुलाकात नहीं हो पाई लेकिन उसके बावजूद भी हम लोग एक दूसरे से हर रोज फोन पर बात किया करते थे। सोनिया भाभी का एक दिन मेरे नंबर पर फोन आया जब उनका फोन मेरे नंबर पर आया तो मैंने उन्हें कॉल बैक किया लेकिन उनसे ज्यादा देर तक बात नहीं कर पाया। उसके बाद मेरे दिमाग से यह बात निकल चुकी थी सोनिया भाभी का मुझे कोई ध्यान ही नहीं था परंतु एक दिन उन्होंने मुझे मेरे नंबर पर मैसेज किया और जब उनका मुझे मैसेज आया तो उसके कुछ अंश मैं आपको बताता हूं कि कैसे हम लोगों की बातें आगे बढ़ी।

मैं- आपका मेरे नंबर पर मैसेज आया था?

सोनिया भाभी- क्या आप मुझे जानते हैं?

मैं- नहीं मैं आपको नहीं जानता आपका क्या नाम है?

सोनिया भाभी- मेरा नाम सोनिया है, मैं चंडीगढ़ में रहती हूं।

मैं- मुझे नहीं मालूम कि कभी हमारी इससे पहले बात भी हुई है लेकिन आपका नंबर मेरे मोबाइल में सेव जरूर है।

सोनिया भाभी- खैर छोड़ो तुम यह बताओ तुम्हारा क्या नाम है?

मैं- मेरा नाम अजय है।

सोनिया भाभी- अजय तुम करते क्या हो।

मैं- भाभी में अपने पापा के साथ ही काम करता हूं उनका कैटरिंग का काम है।

सोनिया भाभी- अच्छा तो उनका कैटरिंग का काम है।

मैं- हां भाभी उनका कैटरिंग का काम है।

सोनिया भाभी- तब तो तुम्हें अपने घर के किसी फंक्शन में ऑर्डर देना पड़ेगा।

मैं- हां क्यों नहीं जरूर आप आर्डर दीजिएगा।

सोनिया भाभी- मैं तुमसे बाद में बात करती हू।

सोनिया भाभी से पहली बार मेरी मैसेज के द्वारा बात हुई और उसके बाद तो हम लोगों कि फोन पर अक्सर बातें होने लगी थी। कुछ दिनों पहले की बात है जब हम दोनों कुछ ज्यादा ही मूड में थे और उन्होंने मुझसे अपनी चूत की खुजली को मिटाया मुझे भी उनसे बात करना अच्छा लगता है क्योंकि मैं चाहता हूं कि उनके एहसान को मैं उतार दूं। उन्होंने ही तो मुझसे बात कर के मेरे अंदर के शर्मिला इंसान को अब एक सामान्य इंसान बना दिया। अब मैं बिल्कुल भी नहीं शर्माता हूं और सोनिया भाभी से बात करने के बाद मैंने अपने पड़ोस में ही कहीं भाभियों को चोदकर प्रेग्नेंट बना दिया और मैंने कई लड़कियों की भी सील तोड़ दी है। मैं बहुत खुश हूं और यह सब सिर्फ सोनिया भाभी की वजह से हुआ था कुछ दिनों पहले सोनिया भाभी का मुझसे बात करने का बड़ा मन था तो उन्होंने मुझे फोन कर दिया। उन्होंने मुझे रात के 11:00 बजे फोन किया उस वक्त मैं कमरे में ही लेटा हुआ था मेरा हाथ मेरे लंड को पकडे हुए था। सोनिया भाभी का मुझे फोन आया उनका फोन आते ही मैंने झट से उनके फोन को उठा लिया।

मैं- सोनिया भाभी मैं आपके फोन का इंतजार कर रहा था लगता है आपने मेरे दिल की आवाज सुन ली।

सोनिया भाभी- हां मैंने तुम्हारे दिल की आवाज सुन ली थी इसीलिए तो मैंने तुम्हें फोन किया।

मैं- आपने रात को मुझे फोन किया इसके पीछे जरूर कोई तो वजह होगी।

सोनिया भाभी- बिना वजह के क्या मैं तुम्हें फोन करती हूं अब तुम ही समझ लो क्या वजह हो सकती है।

मैं- भाभी मैं तो समझ रहा हूं कि क्या वजह है यदि आप अपने मुंह से बताए तो ज्यादा अच्छा होगा तभी तो बात करना मैं और भी मजा आ जाएगा।

सोनिया भाभी- मैंने तुम्हें इसलिए फोन किया क्योंकि आज मैं घर पर अकेली थी और मेरी चूत में कुछ ज्यादा खुजली हो रही थी सोचा तुमसे बात कर के अपनी खुजली को मिटा दूं।

मैं- अच्छा भाभी आपकी चूत में कुछ ज्यादा खुजली हो रही है, मैं उसे जरूर मिटा दूंगा आप मुझ पर भरोसा रख सकती हैं।

सोनिया भाभी- जानेमन तभी तो तुम्हें फोन किया है मुझे तुम पर पूरा भरोसा है कि तुम मेरी जरूरत को जरूर पूरा करोगे।

मैं- चलो भाभी फिर हम लोग शुरू करते हैं आप बताइए क्या करना है।

सोनिया भाभी- मैंने अपने स्तनों को खोलकर रखा है तुम दूध को निकाल लो।

मैं- भाभी जी आपके स्तनों का दूध मैं अच्छे से निकाल लूंगा और उसे पीने में मुझे बड़ा मजा आता है। पहले मुझे आपके रसीले होठों का रस तो बाहर निकालने दो।

सोनिया भाभी- हां तुम अपने होठों से मेरे होठों को चूस कर उनका रस बाहर निकाल दो मैं भी तुम्हारा इंतजार कर रही हूं।

मैं- लो भाभी आपके होठों पर अपने होठों को स्पर्श करता हूं मेरे अंदर की आग और भी ज्यादा बढ़ने लगी है।

सोनिया भाभी- जब तुम मेरे होठों पर अपने होठों को मिलाते हो तो मुझे बहुत अच्छा लगता है।

मैं- मुझे भी आपसे बात करना बहुत अच्छा लगता है और आपकी मदमस्त आवाज तो मुझे अपनी ओर खींच लेती हैं। मैंने आज सोचा ही था कि आपसे फोन पर बात करूंगा लेकिन आपका फोन मुझे आ ही गया और मैं बहुत ज्यादा खुश हूं।

सोनिया भाभी- अच्छा तो तुम मेरे फोन का इंतजार कर रहे थे।

मैं- हां भाभी आपके फोन का इंतजार कर रहा था मेरा लंड भी आज फुफकार रहा था और उसके अंदर से भी कई दिनों से आग बाहर निकली नहीं है और इसलिए तो आपको याद कर रहा था।

सोनिया भाभी- तुम बातें कर के समय बर्बाद ना करो।

मैं- मैने भाभी आपके स्तनों पर अपने होठों को लगा लिया और आपके निप्पल को चूसने में मुझे बड़ा मजा आ रहा है।

सोनिया भाभी- ऐसे ही तुम मेरे निप्पल को चूसते रहो मुझे मजा आ रहा है।

मैं- भाभी आपका दूध बड़ी तेजी से बाहर निकल रहा है मुझे उसे पीने में मजा आ रहा है मुझे तो लग रहा है कि आपका दूध पीकर मैं अपना पेट भर लूंगा और अपनी भूख को भी मिटा लूंगा।

सोनिया भाभी- हां तो फिर मिटा लो।

मै- भाभी आपके स्तन इतने बडे कैसे हुए।

सोनिया भाभी- इनको ना जाने कितनो ने चूसा है।

मै- आपके कई दिवाने रहे होंगे।

सोनिया भाभी- हां मेरे बहुत दिवाने थे,  तुमने मेरी चूत की खुजली को बढा दिया है अब मेरी खुजली को मिटा दो।

मै- अभी मिटाता हूं भाभी।

सोनिया भाभी- अच्छा तो तुमने अपनी जीभ को मेरी चूत में लगा दिया है।

मैं- हां भाभी आपकी चूत को चाटने में तो मजा आता है और मुझे बड़ा मजा आ रहा है आपकी चूत से निकलता हुआ गर्म पानी है वह चाटकर मुझे बहुत खुशी हो रही है।

सोनिया भाभी- अच्छा तो तुमने मेरी चूत के पानी को चाट लिया है।

मैं- हां भाभी आज मैं आपकी चूत में अपने लंड को घुसाने वाला हूं।

सोनिया भाभी- मैंने अपने पैरों को खोल लिया है और अब तुम अपने लंड को मेरी चूत मे घुसा दो।

मैं- सोनिया भाभी थोड़ा सा पैर और खोल लो ताकि आसानी से लंड अंदर घुस सके।

सोनिया भाभी- लो खोल लिया है अंदर डालो।

मैं- मेरा लंड अंदर घुस गया है।

सोनिया भाभी- हां तुम्हारा लंड अंदर घुस चुका है ओहो आह आह ऊफ मजा आ रहा है।

मैं- भाभी अभी और भी मजा आएगा।

सोनिया भाभी- मजा तो आ रहा है ऐसे ही तुम धकके मारते रहो।

मैं- सोनिया भाभी आपकी चूत कैसी इतनी टाइट है और उससे कितना पानी बाहर की तरफ निकल रहा है।

सोनिया भाभी- हां मेरी चूत बहुत ज्यादा टाइट है मुझे बहुत मजा भी आ रहा है ऐसे ही तुम मुझे चोदते रहो मुझे बड़ा अच्छा लग रहा है मेरी चूत की खुजली मिटती जा रही है।

मैं- खुजली तो मै आपकी मिटाकर रहूंगा लेकिन आपकी चूत वाकई में कमाल की है।

सोनिया भाभी- तुम्हें मालूम है मैंने अपनी चूत में क्या डाला हुआ है।

मैं- हां भाभी बताइए ना क्या डाला हुआ है।

सोनिया भाभी- मैंने अपनी चूत के अंदर केले को घुसा रखा है और उस केले ने बड़े अच्छे से मेरा साथ दिया, मुझे लग रहा है कि अब मेरी खुजली मिटने वाली है।

मैं- भाभी यदि ऐसा है तो मैं बहुत ही खुश हूं कि मैं अपनी खुजली को मिटा पाया आपके भी मुझ पर बहुत एहसान है यदि आप मेरा साथ ना देती तो शायद ऐसा कभी हो ही नहीं पाता।

सोनिया भाभी- क्या तुम्हारा माल गिर चुका है।

मैं- हां मेरा माल तो गिर चुका है।

Tags: , , ,
error: