मामा की लड़की के साथ फोन सेक्स

rishton me chudai, hindi sexy story

मेरा नाम रोहित है, मैं विदेश में रहता हूं लेकिन कुछ समय के लिए मैं अपने घर पर आया हुआ था। उस दौरान मे अपने मामा के घर दिल्ली चला गया और कुछ दिन में दिल्ली में ही रहा। मेरी उम्र 32 वर्ष है और मेरे मामा की लड़की जिसका नाम संजना है उसकी उम्र  18 वर्ष है।  मैं अपने मामा के घर ज्यादा नहीं रुक पाया लेकिन मुझे संजना की आंखों में अब हवस दिखाई दे रही थी। मैं जब अपने घर मुंबई लौट आया तो मेरे दिमाग में सिर्फ संजना की ही तस्वीर चल रही थी और उसका मद मस्त बदन बार बार मेरी आंखों के सामने आ रहा था इसीलिए मैने सोचा कि मैं सजना से फोन पर बात कर ही लेता हूं क्योंकि इसके बाद तो मैं विदेश चला जाऊंगा। मैंने विदेश जाने से कुछ दिनों पहले ही संजना को फोन किया था। जब मेरी संजना से बात हुई तो वह बात में आप लोगों को बताना चाहता हूं क्योंकि मुझसे बिल्कुल भी नहीं रहा गया और मैं आप लोगों से अपने दिल की बात कहना चाहता हूं कि किस प्रकार से मै अपनी जवानी की दहलीज पर कदम रखने वाली मामा की लड़की से बात कर रहा था। मैंने उसे रात के 11:30 बजे मैसेज करते हुए पूछा कि क्या तुम सो चुकी हो उसका रिप्लाई आया नहीं मैं नहीं सोई हूं। उसके बाद मैंने उसे फोन कर दिया।

मैं- क्या बात सजना अभी तक तुम सोई नहीं।

संजना- मुझे अभी नींद नहीं आ रही है।

मैं- क्या बात अभी तक नींद नहीं आ रही है तुम क्या कर रही हो।

संजना- कुछ भी तो नहीं कर रही मैं तो सिर्फ अपने दोस्तों के साथ बात कर रही थी।

मैं- तुम्हारे दोस्त भी रात तक उठे रहते हैं?

संजना- हां मेरे दोस्त रात तक उठे रहते हैं, हम लोग रात भर बात करते हैं।

मैं- तुम्हारा ऐसा कौन सा दोस्त है जिससे तुम इतनी रात तक बात करती हो।

संजना- मेरे क्लास की फ्रेंड है।

मैं- क्या बात तुम्हारे फ्रेंड तो बड़े ही अच्छे हैं।

संजना- मेरे फ्रेंड तो बड़े ही अच्छे हैं। हम लोग तो बड़ी ही मस्तियां करते हैं और फोन पर भी बहुत गेम खेलते हैं।

मैं- कौन-कौन से गेम खेलते हो बस ऐसे ही खेल लिया करते हैं।

संजना- मुझे आपसे एक बात पूछनी है आपने मुझे इतनी रात को क्यों फोन किया।

मैं- बस ऐसे ही सोचा तुम्हें फोन कर लूं तो तुम्हें फोन कर लिया।

संजना- ऐसे ही तो आपने मुझे फोन नहीं किया होगा कुछ बात तो जरूर होगी नहीं तो आपने मुझे आज तक बहुत ही कम बार फोन किया है। जब भी कुछ काम होता है आप तभी मुझे फोन करते हैं।

मैं- नहीं ऐसी कोई भी बात नहीं है और ना ही मुझे तुमसे कोई काम है बस मेरा मन था तो मैंने तुमसे बात कर ली। अब तुम जवान भी हो चुकी हो तो सोचा कि तुमसे बात कर लू।

संजना- आपको कैसे पता चला कि मैं जवान हो चुकी हूं।

मैं- अब तुम बड़ी हो चुकी हो तो लगने लगा है कि अब तुम जवान हो गई हो।

संजना- मेरी हाइट ही तो बड़ी हुई है और मेरे अंदर क्या परिवर्तन हुआ है।

मैं- तुम्हारे अंदर बहुत कुछ परिवर्तन हो चुका है अब तुम पहले जैसी बिल्कुल भी नहीं हो। तुम्हारे बड़े बड़े स्तन मामी की जितने हो चुके हैं।

संजना- क्या बात कर रहे हो क्या वाकई में मेरे स्तन इतने बड़े हो गए हैं। मैं हमेशा ही सोचती हूं मेरे चूचे बहुत छोटे हैं।

मैं- अरे नहीं तुम्हारे स्तन तो बहुत बड़े हो चुके हैं तुम्हारी टीशर्ट के बाहर से तुम्हारे स्तन झाकने लगे हैं।

संजना- तभी मैं कहूं सब लोग मुझे इतना घूर कर क्यों देखते हैं।

मैं- तुम एक काम करो मुझे अपने स्तनों की फोटो भेजो उसके बाद मैं तुम्हें बताता हूं कि तुम्हारे स्तन कितने बड़े हुए हैं।

संजना- भैया आप 2 मिनट रुको बस में 2 मिनट में आपको अपने स्तनों की फोटो भेजती हो

संजना ने जब मुझे अपने स्तनों की फोटो भेजी तो उसके स्तनों के बीच में एक तिल था। उसके बड़े बड़े और गोरे स्तन देख कर तो मेरा लंड भी खड़ा हो गया और मुझे ऐसा लगने लगा कि मुझे अपने मामा के घर ही कुछ दिन रुकना चाहिए था। कुछ देर बाद ही संजना ने मुझे फोन कर दिया और फोन करते ही

संजना- भैया आपने मेरे स्तनों की फोटो देखी आपको कैसे लगे।

मैं- तुम्हारे स्तन तो बहुत ही अच्छे हैं और बड़े हो चुके हैं।

संजना- मेरा बॉयफ्रेंड तो हमेशा ही मुझे कहता है कि तुम्हारे स्तन बहुत ही छोटे हैं।

मैं- तुम्हारे बॉयफ्रेंड की मां की चूत उसको क्या पता उसका लंड कौन सा इतना बड़ा होगा।

संजना- हां भैया आप यह तो बिल्कुल सही कह रहे हैं उसका लंड बहुत ही छोटा है। मैं जब भी उसके लंड को अपने मुंह में लेती हू तो मुझे बिल्कुल भी मजा नहीं आता। क्या आप मुझे अपने लंड की फोटो भेजोंगे मैं देखना चाहती हूं कि आपका लंड कितना मोटा है।

मैंने जब संजना को अपने लंड की फोटो भेजी उसके बाद हमारी जो बात शुरू हुई।

संजना- भैया आपका लंड तो बहुत ही मोटा है और साफ साफ दिखाई दे रहा था कि कितना ज्यादा कठोर भी है। काश आप मेरे पास होते तो मैं आपके लंड को अपनी योनि में ले लेती।

मैं- मुझे भी नहीं पता था कि तुम अब इतनी बड़ी हो चुकी हो इसीलिए तो मैंने तुम्हें फोन किया। अब मेरा भी पूरा पानी छुटने लगा है। मैं अपने लंड को अपने हाथों से हिला रहा हूं मुझे बहुत अच्छा महसूस हो रहा है।

संजना- मैंने भी अपनी योनि के अंदर अपनी उंगली को डाला हुआ है मुझे भी बहुत अच्छा महसूस हो रहा है।

मैं- क्या तुम्हारी सील टूट चुकी है?

संजना- नहीं अभी तक मैं कुंवारी हूं क्योंकि मैंने अपने बॉयफ्रेंड को अपनी चूत नहीं मारने दी है मैं सिर्फ उसके लंड को अपने मुंह में लेकर चुस्ती हूं और उसे संतुष्ट कर देती हूं।

मैं- तुम मेरे लिए अपनी रसभरी चूत को बचा कर रखना मैं ही तुम्हारी सील का उद्घाटन करूंगा।

संजना- ठीक है मैं आपके लिए अपनी सील पैक चूत को संभाल कर रखूंगी और किसी को भी नहीं मारने दूंगी।

मैं- यदि तुम ऐसा करोगी तो मैं तुम्हें बहुत ही अच्छे गिफ्ट दूंगा जिससे कि तुम खुश हो जाओगी।

संजना- ठीक है तो आप मुझे अगली बार आकर चोदना और मुझे गिफ्ट देकर चले जाना मैं आपका इंतजार करूंगी।

मैं- तुम मुझे अपनी चूत की फोटो भेज दो मैं देखना चाहता हूं कि तुम्हारी चूत कितनी मस्त है।

जब संजना ने अपनी फोटो क्लिक कर के भेजी तो उसके ऊपर एक भी बाल नहीं था और उसकी चूत बड़ी ही मस्त थी। मुझे बहुत पछतावा हो रहा था और सोच रहा था कि मैं क्यों नहीं अपने मामा के घर पर रुक गया।

मैं- तुम्हारी चूत तो बड़ी मस्त है। मै तुम्हारी चूत देख कर मै खुश हो गया। अगली बार जब मैं लौटूंगा तो तुम्हारी चूत का रसपान जरूर करूंगा।

संजना- मैं आपका इंतजार करूंगी और मैं अपनी चूत को किसी से भी नहीं मरवाऊंगी।

मैं- मेरा तो गिर चुका है अब मै अपने बिस्तर पर लेटा हुआ हूं मैंने अपने लंड को अपने हाथों से पकड़ा हुआ है और हिला रहा हूं।

संजना- लेकिन मेरा अभी तक नहीं झड़ा।

मैं- तुम अपनी योनि के अंदर अपनी उंगलियों को डाल लो और अच्छे से अंदर बाहर करती रहो।

संजना- मैं अपनी योनि के अंदर अपनी उंगलियों को डाल रही थी और मुझे बहुत अच्छा महसूस हो रहा था।

मैं- तुम अपनी उंगलियों को बड़ी तेजी से अंदर बाहर करो तुम्हें बहुत अच्छा महसूस होगा।

संजना- आपने ठीक कहा था अब मैं अपनी योनि के अंदर अपनी उंगली को डाल रही हूं तो मुझे बड़ा अच्छा महसूस हो रहा है और ऐसा लग रहा है जैसे कोई मेरी इच्छा को पूरा कर रहा है।

मैं- मैं भी अपने लंड को अपने हाथों से हिला रहा हूं जिससे कि मेरा भी वीर्य पतन हो जाए।

संजना- हां भैया मेरा झड़ने वाला है और मैंने अपने पैरों को चौडा कर लिया है मुझे बहुत अच्छा महसूस हो रहा है।

मैं- मेरा वीर्य गिरने वाला है और मैं बाथरूम के अंदर जाकर अपने वीर्य को गिरा दूंगा।

संजना- मेरा तो झड चुका है और मैं ऐसे ही अपने पैरों को खोल कर लेटी हुई हूं।

मैं- मेरा भी बस निकलने वाला है

5 मिनट बाद जब मेरा वीर्य गिरा  तो मुझे बहुत अच्छा लगा मैंने संजना से कहा कि तुम मेरा इंतजार करना मैं अगली बार आकर तुम्हें अच्छे से पेलूंगा। मेरी अब भी संजना से बात होती है लेकिन मैं विदेश में हूं और इंतजार कर रहा हूं कब मैं घर जाऊं संजना की मुलायम और नरम योनि का आनंद लू लेकिन मेरी इच्छा पूरी ही नहीं हो रही है।

Tags: , , ,
error: