बातों से ही माल बाहर निकाल दिया

Desi sex chat, sex stories in hindi: मैं जिस ऑफिस में काम करता हूं उस ऑफिस में लता के अब तक बड़े चर्चे हैं हालांकि लता की अब शादी हो चुकी है कुछ समय पहले उसकी शादी हुई थी। अब वह अपने पति के साथ हैदराबाद में रहती है लता के पीछे हमारे ऑफिस के अधिकतर लोग पड़े हुए थे लेकिन लता ने किसी को भी अपने बदन को छूने का मौका नहीं दिया उसने गुपचुप तरीके से ही शादी कर ली और किसी को भी नहीं बताया कि उसकी शादी कब हुई। जब मैंने उसकी फोटो को फेसबुक पर देखा तो मैं थोड़ा हैरान रह गया मैं यकीन नहीं कर पाया लेकिन जब मैंने इंस्टाग्राम पर भी उसके पति के साथ उसकी तस्वीरें देखी तो मेरी आंखें फटी की फटी रह गई। मुझे ऐसा लगा जैसे मेरे लंड पर किसी ने बड़े ही तेजी से प्रहार कर दिया हो क्योंकि मैं हमेशा से लता को चोदने का सपना अपने मन में पाले बैठा था लेकिन वह तो पूरा हो ना सका परंतु उसके बावजूद भी मैंने उसे बधाई दी और जिस प्रकार से मैंने उसे बधाई दी उससे वह खुश हो गई। हम लोग फेसबुक मैसेंजर के माध्यम से बात कर रहे थे रात के वक्त में भी सो नहीं पा रहा था तो सोचा लता को उसकी शादी का बधाई दे देता हूं। मैंने लता को उसकी शादी की बधाई दी हम दोनों की बात बड़ी मजेदार होने वाली थी। मुझे इस बात का अंदाजा नहीं था लेकिन मैंने जब लता को फेसबुक मैसेंजर के माध्यम से बधाई दी तो उसका भी मुझे रिप्लाई आया और उसके बाद हम दोनों की फेसबुक मैसेंजर पर चैट के माध्यम से ही बात होने लगी। मैं उससे फेसबुक चैट के माध्यम से ही बात कर रहा था।

मैं- मैं आपको आपकी शादी की ढेरों शुभकामनाएं देता हूं आपने हमें शादी में बुलाया नहीं उसके लिए मैं आपसे बहुत नाराज हूं।

लता- सॉरी राजीव सर आपको बता नहीं पाई सब बड़ी जल्दी में हुआ।

मैं- लता यदि आप मुझे बता देती तो मुझे बहुत खुशी होती है कम से कम आपने मुझे अपनी शादी के बारे में तो बताया तो होता। मेरा तो दिल टूट चुका है कि आपने मुझे अपनी शादी के बारे में नहीं बताया मुझे आपसे ऐसी उम्मीद बिल्कुल भी नहीं थी।

लता- अच्छा तो आपको ऐसी उम्मीद मुझसे बिल्कुल भी नहीं थी मैं आप लोगों को बताना तो चाहती थी लेकिन यह सब इतनी जल्दी में हुआ कि मुझे खुद ही पता नहीं चल पाया दरअसल हम दोनों ने लव मैरिज की है। यह बात मैंने किसी को भी नहीं बताई थी मैंने संजय के बारे में किसी को भी नहीं बताया था लेकिन अब मेरी शादी संजय से हो चुकी है तो आपको मैंने इस बारे में बता दिया हम दोनों काफी समय से एक-दूसरे को डेट कर रहे थे और मुझे लगा कि अब हमें शादी कर लेनी चाहिए तो हम लोगों ने शादी कर ली।

मैं- चलिए आपने यह अच्छा किया जो आप ने संजय से शादी कर ली पर आप यह तो बताइए कि आप क्या हनीमून पर भी कहीं गई थी? वैसे तो मैंने आपकी तस्वीरें देखी थी मुझे लग रहा है कि वह हनीमून की ही हैं लेकिन आप मुझसे छुपाना मत।

लता- नहीं राजीव सर मैं आपसे नहीं छुपाऊंगी मैं और मेरे पति हनीमून के लिए लंदन गए थे और वहां पर हम लोगों ने खूब मौज मस्ती की मुझे भी बहुत अच्छा लगा मेरा हनीमून का टूर बड़ा ही अच्छा रहा मै जिंदगी भर इस टूर को नहीं भूल पाऊंगी।

मैं- क्या आप लोगों के बीच में वह सभी हुआ या नहीं?

लता- सर मैं कुछ समझी नहीं कि हमारे बीच में कुछ हुआ या नहीं।

मैं- मैं आपसे यह कह रहा हूं कि आप लोगों के बीच कुछ प्यार मोहब्बत की बातें हुई या फिर ऐसे ही लंदन में सिर्फ घूमते ही रह गए।

लता- सर हम लोगों के बीच सब कुछ हुआ मुझे बड़ा अच्छा लगा जिस प्रकार से पहली बार मैंने संजय के साथ रात बिताई थी। पहली रात तो मेरी बड़ी यादगार रही अब हम लोग कुछ अलग ही टॉपिक की तरफ जा रहे हैं इसलिए मुझे इस बारे में अब बात नहीं करनी है।

मैं- चलिए कोई बात नहीं आपको इस बारे में बात नहीं करनी है लेकिन आप यह तो बताइए आप खुश तो है आपके पति आपका पूरा ध्यान रखते हैं या नहीं?

लता- मेरे पति मेरा पूरा ध्यान रखते हैं और मैं उनके साथ बहुत खुश हूं मुझे खुशी इस बात की है कि वह मेरी हर एक जरूरतों को पूरा कर रहे हैं और मेरी बात को हमेशा मानते हैं।

मैं- अभी तो संजय के अंदर जवानी का जोश है इसलिए वह आपकी हर एक बात मानते हैं लेकिन जैसे जैसे उम्र होती रहेगी तो वैसे ही आपको भी किसी ना किसी की जरूरत पड़ने लगेगी।

लता- सर मैं कुछ समझी नहीं आप क्या कहना चाहते हैं आप मुझे जरा समझाइए तो सही आप कहना क्या चाहते हैं।

मैं- देखो अब तुमसे छुपाना कैसा आप मुझे ही देख लो मेरी शादी को कितने साल हो चुके हैं लेकिन आज मेरी पत्नी मेरी तरफ देखती तक नहीं है इसलिए मुझे अपनी जरूरतों को पूरा करवाने के लिए किसी और का सहारा लेना पड़ता है यदि मैं तुमसे कुछ कहूं तो तुम्हें बुरा तो नहीं लगेगा?

लता- आप क्या कहना चाह रहे हैं।

मैं- मैं तुमसे यह कहना चाह रहा हूं कि क्या तुम मेरे साथ कभी सेक्स संबंध बनाओगी मेरा तो लंड खड़ा हो चुका है। मैं जब तुम्हें ऑफिस में देखा करता था तो तुम्हें देखकर मुझे बड़ा अच्छा लगता था और जिस प्रकार से तुम मटक कर मेरे आगे से जाती थी तुम्हें देखना आज भी मेरा सपना है।

लता- मुझे मालूम है ऑफिस में सब लोग मुझे ही देखा करते थे लेकिन आप इस प्रकार की बातें कर रहे हैं मुझे बिल्कुल अच्छा नहीं लग रहा है।

मैं- लता मुझे अब तुम तड़पाओ मत यदि तुम्हें मुझसे बात नहीं करनी है तो कोई बात नहीं मैं तुम्हें अब मैसेज नहीं करूंगा।

लता- सर ऐसी बात नहीं है वैसे मैं आपको अपने दिल की बात बताऊं तो आज मेरे पति घर पर नहीं है और मेरा भी आज सेक्स करने का बड़ा मन था तभी आपसे मैसेज पर बात हो गई मुझे भी अच्छा लगने लगा यदि आप मेरे पास होते तो मैं भी आपके अंदर की गर्मी को बाहर निकाल कर रख देती और आपके लंड को चूसकर बेहाल कर देती।

मैं- लता तुमने मेरे दिल की बात कर दी मुझे इस बात से खुश कर दिया कम से कम तुम्हें मेरा लंड को चूसने में मजा तो आता। मुझे बहुत अच्छा लग रहा है जिस प्रकार से तुम मुझसे बात कर रही हो।

लता- सर मैं आपको अभी अपनी नग्न अवस्था में तस्वीर भेजती हूं आपको देखकर बड़ा अच्छा लगेगा और आप भी क्या याद करेंगे कम से कम शादी के बाद तो मैंने आपकी इच्छा को पूरा कर दिया।

मैं- मैंने तुम्हारी तस्वीर को देखा कसम से मजा आ गया तुम्हारी नंगी तस्वीर देखकर मेरा लंड हिलोरे मारने लगा है मुझे तो ऐसा लग रहा है कि तुम्हारी चूत के अंदर अपने लंड को घुसा कर अपने वीर्य को भी तुम्हारी चूत में ही गिरा दूं कसम से मजा ही आ जाएगा यदि ऐसा होता है।

लता- सर मुझे आपसे बात करने में अच्छा लग रहा है और आपने भी मुझे अपने लंड की जो फोटो भेजी है वह देखकर मुझे भी ऐसा प्रतीत हो रहा है कि आपके लंड को जब मैं अपने मुंह के अंदर लूंगी तो कितना अच्छा होगा। आपके लंड को मैं बार-बार देख रही हूं और आपके लंड की नसें दिखाई दे रही है उससे अंदाजा लगा लिया है कि आपने अपनी पत्नी को कितना चोदा होगा इसीलिए तो आपकी पत्नी की सेक्स में रुचि नहीं रही।

मैं- मैं तो फिलहाल तुम्हें चोदना चाहता हूं मेरा मन तुम्हें चोदने का भी कर रहा है मैं सोच रहा हूं कि यदि तुम्हारी चूत के अंदर मेरा लंड जा पाता तो मजा ही आ जाता। मुझे लग रहा है कि तुम्हारी चूत के अंदर मेरा लंड घुस रहा है मैं तुम्हारी चूत के बारे में सोच रहा हूं तो मुझे बड़ा मजा आ रहा है।

लता- सर मुझे भी तो बहुत अच्छा लग रहा है और ऐसा लग रहा है कि काश आपने मुझे ऑफिस में ही चोद लिया होता मेरा भी मन बहुत होता था कि उस वक्त मुझे कोई चोदे। मेरी जरूरत मेरे पति ने पूरी की जब शादी की पहली रात मेरी सील टूटी थी तो मुझे बड़ा अच्छा लगा था।

मैं- लता तुम्हारे नाम से ही मेरा वीर्य गिर गया है और तुमसे बात कर के बहुत अच्छा लग रहा है।

 

Tags: , , ,
error: